लॉकडाउन के 21 दिन: गुजरे कुछ ऐसे, सफर को इन्होंने बनाया आसान

कन्नौज: कोरोना वायरस को रोकने के लिए पहले 22 मार्च को जनता कर्फ्यू सफल रहा। बाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर 25 तारीख से 21 दिन का लॉकडाउन भी चला। पहले चरण का समय समाप्त होता, उससे पहले ही प्रधानमंत्री ने दूसरे शिफ्ट का समय तीन मई तक घोषित कर दिया।
पुलिस प्रशासन की मेहनत से लॉकडाउन में मुश्किलें हुईं कम
लेकिन ये बीते 21 दिन कैसे रहे ये जानना बेहद अहम है। शुरुआत में इस वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए लॉकडाउन को लेकर आम जनता को कुछ दिक्क़ते आई, हालाँकि सरकार के बड़े फैसलों, पुलिस प्रशासन की दिन रात की मेहनत के बाद लॉकडाउन इतना भी मुश्किल नहीं रहा।

जिला प्रशासन लोगों की मदद करता रहा। पीड़ितों व जरूरतमंदों की मदद हुई तो उल्लंघन करने वालों पर कानून का चाबुक भी चला। इन 21 दिनों में प्रशासन की ओर से की गई अच्छी पहल व कार्रवाई की कई लोग तारीफ भी कर रहे हैं।
ये भी पढ़ेंः अब नहीं मिलेंगे नए लाइसेंस: लॉकडाउन का अस इनपर भी, जानेें वजह
171 लोगों का भेजा गया सैंपल
कोरोना वायरस से संक्रमित की पुष्टि के लिए जिले के दो स्थानों राजकीय मेडिकल कॉलेज तिर्वा व जिला अस्पताल में 171 लोगों के सैंपल लिए गए। पहले तो जांच के लिए केजीएमयू लखनऊ भेजा जाता था, लेकिन बाद में इनको इटावा के सैफई पीजीआई में परीक्षण के लिए भेजा गया। हालांकि प्रशासन का दावा है कि पुष्टि एक पॉजिटिव केस की हुई है।

उल्लंघन पर 208 के खिलाफ दर्ज हुई रिपोर्ट
देशव्यापी लॉकडाउन व धारा-144 का उल्लंघन करने वाले 208 लोगों के खिलाफ पुलिस की ओर से रिपोर्ट दर्ज की गई। जिले के थानों व कोतवाली में कुल 38 रिपोर्ट लिखी गईं। 21 दिनों के लॉकडाउन में कुल 26 वाहन भी सीज किए गए। 36 को अलग-अलग आरोपों को पकड़ा भी गया।
ये भी पढ़ेंः भूमिगत तब्लीगी जमातियों की सूचना देने पर पुलिस ने रखा 10 हजार रुपये का इनाम
कंट्रोल रूम में 5367 शिकायतें मिलीं
कोरोना वायरस महामारी में लॉकडाउन के बीच लोगों की समस्याओं को निस्तारित करने के लिए जिला स्तरीय कंट्रोल रूम विकास भवन व तीनों तहसीलों में कुल चार कंट्रोल रूम चल रहे हैं। यहां कुल 5367 शिकायतें आईं। प्रशासन का दावा है कि अधिकतर निस्तारित कर दी गईं।

एक लाख से अधिक लोगों को खिलाया भोजन
जिले की तीनों तहसीलों में चल रहीं सामुदायिक रसोई घर के जरिए अब तक 118588 लोगों को भोजन दिया गया। डीएम का दावा है कि बाहर से आने वाले व जरूरतमंदों को लंच पैकेट बांटे गए।

22665 परिवारों को बांटा राशन
सदर कन्नौज, तिर्वा व छिबरामऊ तहसील क्षेत्र में 22665 जरूरतमंद परिवारों को राशन आदि सामग्री भी बांटी गई। अधिकारियों का कहना है कि आगे भी सहयोग किया जाएगा।
रिपोर्टर -अजय मिश्रा

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

The post लॉकडाउन के 21 दिन: गुजरे कुछ ऐसे, सफर को इन्होंने बनाया आसान appeared first on Newstrack.

admin Author