यूपी में जारी कोरोना का कहर, 657 हुई मरीजों की संख्या, 8 की मौत

लखनऊ:  प्रदेश में कोरोना को लेकर सरकार के प्रयासों के बीच अबतक आठ लोगों की मौत हो चुकी है। हांलाकि सरकार की तरफ से यह भी कहा गया है कि इसमे कुछ लोग दूसरी बीमारियों से प्रभावित थे। उधर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी में मजबूती के साथ लॉक डाउन लागू होगा। योगी आदित्यनाथ ने अस्पतालों में चिकित्सकों को क्वॉरेंटाइन करने पर चिंता जाहिर की है। सीएम योगी ने सभी चिकित्सकों को पीपीटी और अन्य उपकरण उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है।
प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 657

ये भी पढ़ें-   यहां पुलिस ने कोरोना से बचाव के लिए चलाया अनोखा अभियान
आज यहां शासन की तरफ से अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी और प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीजों की कुल संख्या 657 है। इनमें से 49 पूरी तरह स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। 8 लोगों की अब तक मृत्यु हुई है। इनमें से ज्यादातर लोग पहले ही गंभीर बीमारियों से पीड़ित थे। अभी तक सभी मेडिकल स्वास्थ्य कर्मियों के 15 व्यक्तियों के नतीजे नेगेटिव आए हैं। बताया कि अब तक 16000 लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि कल हमने सबसे अधिक 2634 जिन की टेस्टिंग की है।
लगातार टीमें कर रहीं काम

सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बतया कि इसकी वजह से हमारा जो नंबर वह काफी कम रहा है। जो क्लस्टर ओजोन रहे हैं वह 3 किलोमीटर के आसपास के इलाकों में और बफर जोन के इलाकों में टीमें काम कर रही है। 9274 लोगों को सर्विलेंस के बेसिस पर किसी भी प्रकार का लक्षण पाया गया है तो उन्ह कस्टडी क्वॉरेंटाइन किया गया है।
ये भी पढ़ें-   बांद्रा कांड पर सियासत शुरू: किसी ने बताई साजिश, तो कोई बोला- केंद्र जिम्मेदार
उन्होंने बताया कि 71917 विदेशियों को निगरानी में रखा गया था । 28 दिन के बाद उन सभी को अदनान से बाहर भेजा जाएगा। जिन लोगों को बाहर जनपदों में भेजा जाएगा, क्वॉरेंटाइन खत्म होने के बाद उन्हें होम क्वॉरेंटाइन टाइम में ही रहना होगा ताकि उनके 28 दिन पूरे हो जाए।
अवनीश अवस्थी ने दी पूरी जानकारी

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि सीएम हेल्पलाइन के माध्यम से 103770 शिकायतों का त्वरित निदान किया गया है। 70002 दूध दबा आदि की शिकायतें थी जिन्हे दूर किया गया। 46 हजार 271 लोगों को कॉल बैक कर उनकी शिकायतों के बारे में पूछा गया तो लोगों ने संतुष्टि प्रकट की है।
ये भी पढ़ें-  अब नहीं मिलेंगे नए लाइसेंस: लॉकडाउन का अस इनपर भी, जानेें वजह
श्री अवस्थी ने बताया कि धारा 188 के अंतर्गत 17150 एफआईआर दर्ज हुईं हैं। 22132 वाहन सीज किए गए हैं। 6 करोड़ 82 लाख समय शुल्क वसूला गया है।152861 वाहनों के परमिट जारी किए गए हैं। जमाखोरी करने वालों पर 404 एफआईआर दर्ज की गई हैं। जिनमें 506 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। इसमें से 179 लोग गिरफ्तार भी किए गए है।
The post यूपी में जारी कोरोना का कहर, 657 हुई मरीजों की संख्या, 8 की मौत appeared first on Newstrack.

admin Author