जयपुर: हैदराबाद आईआईआईटी टीम ने एक रिसर्च किया है जिसमें भारतीय लोगों के दिमाग को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। इस रिसर्च में कहा गया है कि भारतीयों के दिमाग की साइज पश्चिमी और पूर्वी देशों के लोगों की तुलना में छोटा है।
पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवादियों ने मजदूरों को बनाया निशानाः डीजीपी
भारतीयों का माथा भार लंबाई चौड़ाई हर तरह से छोटा होता है। रिसर्च के दौरान पहली बार भारतीय ब्रेन एटलस तैयार किया गया है। यह रिसर्च अल्जाइमर और ब्रेन से जुड़ी अन्य बीमारियों को ध्यान में रखते हैं। उम्मीद है कि इस स्टडी के बाद दिमाग से जुड़ी परेशानियों को समझने में मदद मिलेगी। यह रिसर्च न्यूरोलॉजी इंडिया नामक मेडिकल जरनल में प्रकाशित है।
भारत में निवेश करने वाली कंपनियों को मिलेगी स्किल्ड मैन पावरः PM मोदी
दिमाग से जुड़ी बीमारियों की निगरानी के के लिए मॉन्ट्रियल न्यूरोलॉजिकल इंस्टीट्यूट (एमएनआई) के मानक आकार का उपयोग किया जाता है। रिसर्चर के अनुसार इस साइज को कॉकेशियन प्रजाति के मानव के दिमाग को ध्यान में रखकर विकसित किया गया है, जो कि भारतीय लोगों के दिमाग से जुड़ी बीमारियों को जांचने के लिए एक आदर्श स्थिति नहीं है।
The post भारतीयों के दिमाग पर हुआ इतना बड़ा खुलासा, विदेशियों से है इस मामले में पीछे! appeared first on Newstrack.