दंतेवाड़ा: आज सुबह से ही मीडिया में भारतीय सेना छाया रहा, सोशल मीडिया पर आज तरह तरह की खबरें पोस्ट होती रही।
यह भी पढ़ें. कमलेश के बाद एक और मौत, नहीं थम रहा हिन्दू नेताओं के मरने का दौर
बता दें कि जम्मू-कश्मीर में सीमा पर एक बार फिर से पाकिस्तान ने नापाक हरकत की है। पाकिस्तानी सेना की गोलीबारी में दो जवान शहीद हो गए हैं। जबकि एक नागरिक की मौत हो गई है, और वहीं तीन घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, भारी गोलीबारी का भारतीय सेना ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया है।
यह भी पढ़ें. कांग्रेस के इस दिग्गज नेता ने कहा- भाजपा कॉमेडी सर्कस न चलाएं
इसी बीच बड़ी खबर आ रही है कि तमाम घटनाओं के बीच छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों ने पुलिस के सामने घुटने टेके हैं।
दरअसल, नक्सल हिंसा के खिलाफ पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस का दावा है कि 4 इनामी समेत 28 नक्सलियों ने पुलिस के समक्ष सरेंडर कर दिया है। दंतेवाड़ा के चिकपाल पुलिस कैम्प में नक्सलियों ने समर्पण किया है।
यह भी पढ़ें.  अरे ऐसा भी क्या! बाथरूम में लड़कियां सोचती हैं ये सब
इसके साथ ही पुलिस ने दावा किया है कि सरेंडर करने वाले सभी नक्सली बड़ी वारदातों में शामिल थे, नक्सल हिंसा के मामले में पुलिस को इन नक्सलियों की तलाश लंबे समय से थी।
दंतेवाड़ा पुलिस ने कहा…
दंतेवाड़ा पुलिस के मुताबिक कटेकल्याण एरिया कमेटी सदस्य एवं पेद्दारास एलओएस कमाण्डर हड़मा मण्डावी उर्फ हरिराम उर्फ मिड़कोम उर्फ राजू पिता बोटी राम मण्डावी उम्र 28 वर्ष जाति मुरिया निवासी सूरनार ने चिकपाल कैम्प में सरेंडर किया था।
यह भी पढ़ें. नहीं सुधरेगा पाकिस्तान! दे रहा इस कायराना हरकत को अंजाम
इसके बाद उसने स्थानीय गोंडी बोली के माध्यम से नक्सलियों के विकास विरोधी विचारधारा और नक्सलवाद से होने वाले नुकसान के बारे में अपने साथियों को जानकारी दी, इसके साथ ही ग्रामीणों को भी सरकार की योजनाओं को बताया, इसके बाद 27 और नक्सलियों ने पुलिस के समक्ष सरेंडर कर दिया।
पुलिस के सामने इन्होंने किया सरेंडर…
यह भी पढ़ें.  इस कांग्रेसी नेता का बड़ा बयान- कमलेश तिवारी के बाद हो सकती है मेरी हत्या
दंतेवाड़ा पुलिस के मुताबिक नक्सलियों के प्लाटून कमांडर मंगलू मड़कामी, कटेकल्याण एलओएस सदस्य बामन कवासी, एलजीएस सदस्य हांदा, पोड़ियामी गंगी, सन्नू मरकाम, भीमा कुड़ामी, हांदो कुडामी, रोसोल माडवी, जोगा कवासी, बुधरा माडवी, आयता मडकामी, आयतू मडकामी, हडमा सोढ़ी ने सरेंडर किया. इनके साथ ही मादे कुहराम, बामन मरकाम, लक्खो कुडामी, लखमा मुचाकी, हुंगा मुचाकी, सुकड़ा मुचाकी, गागरू मरकाम, सुकड़ा मड़कामी, हडमा कवासी, लच्छू कोवासी, बामन मरकाम, बुधराम कोवासी, हिड़मा मड़काम, सुकड़ा कोवासी व महादेव पोड़ियाम ने सरेंडर किया है।
यह भी पढ़ें.  1 रुपये जमा करें रोजाना! करायें इंश्योरेंस रहें टेंशन फ्री, यह है पूरी योजना
The post बड़ी कामयाबी: अब यहां नक्सलियों ने टेके घुटने, पढ़ें पूरा मामला appeared first on Newstrack.